clothes name in hindi and english | kapde ke naam bataiye

clothes name in hindi and english

clothes name in hindi and english | kapde ke naam bataiye

कपड़ा की परिभाषा क्या है?

वस्त्र एक मानव निर्मित रचना है जो प्राकृतिक या सिंथेटिक फाइबर से निर्मित होती है। इन रेशों को सामान्यतः सूत या धागा कहा जाता है। धागा बनाने की प्रक्रिया में कच्चे माल जैसे ऊन, कपास, या अन्य पदार्थों को चरखे या मशीन का उपयोग करके कताई करके बनाया जाता है। कपड़े एक लचीली सामग्री है जिसमें प्राकृतिक फाइबर के साथ-साथ सिंथेटिक फाइबर भी शामिल होते हैं, जो आराम, शैली और कार्यक्षमता का एक अनूठा मिश्रण बनता हैं।

clothes name in hindi and english | कपड़ों के कौन कौन से नाम होते हैं?

no. hindi English
1 सूत yarn
2 ऊन wool
3 बासकट Waist-Coat
4 बनयान Vest
5 मखमल velvet
6 घूंघट veil
7 वर्दी uniform
8 जांघिया underwear
9 पगड़ी, साफा turban
10 टीशर्ट T-shirt
11 पतलून trousers
12 झालर trimming
13 ट्रैकसूट Tracksuit
14 तौलिया towel
15 टाई tie
16 धागा thread
17 फीता tape
18 तैराकी की पोशाक Swimming costume
19 स्वेटर sweater
20 गालिस suspenders
21 सूत का कपडा Suiting
22 पतलून trousers
23 मोज़े/जुराब Stocking
24 छोटा मोजा Socks
25 चप्पल slippers
26 आस्तीन sleeve
27 घाघरा skirt
28 रेशम silk
29 जूता shoes
30 कमीज़ shirt
31 चादर sheet
32 दुशाला shawl
33 सजं Serge
34 दुपट्टे scarf
35 साटन Satin
36 साड़ी saree
37 जूती Sandals
38 समीज Samij
39 रेनकोट raincoat
40 रजाई quilt
41 पजामा pyjama
42 स्वेटर Pullover
43 जेब pocket
44 मोमजामा oil-cloth
45 नाइटी Nighty
46 नैपकिन Napkin
47 गुलबन्द muffler
48 गद्दा Mattress
49 लुंगी Lungi
50 लहंगा LongSkirt
51 लद्दा Longcloth
52 अस्तर Lining
53 मलमल linen
54 चमड़े की जैकेट Leather Jacket
55 तस्में laces
56 पट्टा Lace
57 कच्छा Knickers
58 जर्सी Jersey
59 जीन्स jeans
60 फतुही jacket
61 रूमाल handkerchief
62 निकर Half – Pant
63 लबादा, चोगा gown
64 दस्ताने gloves
65 जाली gauze
66 फ्रॉक Frock
67 फलासीन flannel
68 कामदानी Diaper Brocade
69 धोती Dhoti
70 रफू Darning
71 रेशमी वस्त्र Damask
72 रुई cotton
73 कॉलर Collar
74 कोट Coat
75 कपडे Clothes
76 बड़ा कोट chester
77 कश्मीरा Cashmere
78 टोपी cap
79 किरमिच canvas
80 बटन button
81 चोली Brasserie
82 ब्रा bra
83 मगजी border
84 जूते Boots
85 अंगिया या चोली bodice
86 ब्लाउज Blouse
87 कम्बल blanket
88 बिकिनी Bikini
89 कमरबंद belt
कपड़े किससे बने होते हैं?

आज कपड़े विभिन्न प्रकार के सामग्रियों का मिश्रण जिसमे मुख्यतः कपास, लिनन फाइबर सामग्री से बना होता है साथ ही कपड़े जीवाश्म ईंधन-आधारित कच्चे तेल से प्राप्त सामग्री और रसायनों से बने होने की अधिक संभावना है।

No. Material
Characteristics
1 Cotton
Breathable, soft, absorbent, and suitable for all seasons
2 Silk
Smooth, luxurious, lightweight, and drapes well
3 Wool
Warm, insulating, and moisture-wicking
4 Linen
Lightweight, breathable, and ideal for hot weather
5 Polyester
Durable, wrinkle-resistant, and quick-drying
6 Rayon
Soft, comfortable, and has a silky appearance
7 Nylon
Strong, lightweight, and water-resistant
8 Denim
Durable, sturdy, and commonly used for jeans
9 Velvet
Soft, plush, and has a luxurious texture
10 Satin
Smooth, glossy, and often used for elegant clothing
11 Leather
Durable, flexible, and commonly used for jackets and shoes
12 Synthetic fibers
Versatile, affordable, and can mimic natural materials
13 Spandex
Stretchy, elastic, and used for form-fitting garments
14 Cashmere
Luxurious, soft, and provides excellent insulation
15 Fleece
Warm, lightweight, and commonly used for outerwear

पहले इंसान क्या पहनते थे?

1.प्रारंभिक काल

2 .प्राचीन सभ्यताएँ:

जैसे-जैसे सभ्यताएँ विकसित हुईं, लोगों ने कपड़े बनाने के लिए रेशों की बुनाई शुरू कर दी।

प्राचीन मिस्र में, लिनन आमतौर पर पहना जाता था, जबकि प्राचीन मेसोपोटामिया में ऊनी और सूती कपड़ों का उपयोग देखा जाता था। प्राचीन चीन में रेशम को अत्यधिक महत्व दिया जाता था।

3.शास्त्रीय युग:

प्राचीन ग्रीस और रोम में, विभिन्न वर्गों के बीच कपड़ों की शैलियाँ भिन्न-भिन्न थीं। जैसे -अमीर लोग रेशम और लिनन जैसे बढ़िया कपड़ों से बने लिपटे हुए कपड़े पहनते थे, जबकि आम लोग ऊन से बने साधारण अंगरखे पहनते थे।

4.मध्य युग:

इस अवधि के दौरान, कपड़ों की शैलियाँ अधिक विस्तृत हो गईं। रईसों और राजघरानों ने मखमल, रेशम और ब्रोकेड जैसे शानदार कपड़ों से बने परिधान पहने, जो जटिल कढ़ाई और अलंकरण से सुसज्जित थे। आम लोग आम तौर पर ऊनी या लिनेन से बने साधारण कपड़े पहनते थे।

5.पुनर्जागरण:

पुनर्जागरण काल में शास्त्रीय शैलियों में रुचि का पुनरुत्थान देखा गया। रेशम, साटन और मखमल जैसे विस्तृत विवरण और शानदार कपड़ों के साथ कपड़े अधिक सिलवाए और फिट हो गए।

6 .औपनिवेशिक युग:

औपनिवेशिक युग के दौरान दुनिया के विभिन्न हिस्सों में, लोग अपनी-अपनी संस्कृतियों से प्रभावित होकर कपड़े पहनते थे। उदाहरण के लिए, यूरोपीय उपनिवेशवादी अक्सर अपने घरेलू देशों में प्रचलित पोशाक शैली पहनते थे, जबकि स्वदेशी आबादी ने अपने पारंपरिक परिधान बनाए रखे।

कपड़े की पहचान कैसे करें ?

विभिन्न प्रकार के कपड़ों की पहचान करने के लिए, आप निम्नलिखित विधियों का उपयोग कर सकते हैं:-

1 .दृश्य निरीक्षण:

बनावट, पैटर्न, बुनाई और चमक जैसी विशिष्ट विशेषताओं की तलाश में कपड़े की बारीकी से जांच करें। उदाहरण के लिए, सूती कपड़ों की बनावट मुलायम और सांस लेने योग्य होती है, जबकि रेशमी कपड़ों की बनावट चिकनी और चमकदार होती है।

2 .स्पर्श करें और महसूस करें:

कपड़े की बनावट का आकलन करने के लिए उसे धीरे से स्पर्श करें।आप महसूस करें कि यह नरम, खुरदरा, चिकना या मोटा है। विभिन्न कपड़ों में अलग-अलग स्पर्श गुण होते हैं। उदाहरण के लिए, ऊन गर्म और थोड़ा मुरझाया हुआ लगता है, जबकि पॉलिएस्टर में चिकना और सिंथेटिक एहसास होता है।

3 .जला परीक्षण:

कपड़े का एक छोटा सा नमूना लें (सावधानीपूर्वक और नियंत्रित तरीके से) और इसे आंच से जलाएं। देखें कि कपड़ा कैसे जलता है और वह अपने पीछे क्या अवशेष छोड़ता है। इस विधि में सावधानी की आवश्यकता होती है और इसे सावधानी से किया जाना चाहिए। कपास और रेशम जैसे प्राकृतिक रेशे जल जायेंगे, जबकि पॉलिएस्टर जैसे सिंथेटिक रेशे पिघल जायेंगे।

4 .जल परीक्षण:

कपड़े पर पानी की कुछ बूँदें छिड़कें। ध्यान दें कि कपड़ा कैसे प्रतिक्रिया करता है। प्राकृतिक रेशे पानी को सोखने की प्रवृत्ति रखते हैं, जबकि सिंथेटिक रेशे इसे रोक सकते हैं।

5 .लेबल और दस्तावेज़ीकरण:

कपड़ों की वस्तु से जुड़े लेबल की जाँच करें। यह अक्सर कपड़े की संरचना और देखभाल के निर्देशों के बारे में जानकारी प्रदान करता है। 

 कपड़ा विशेषज्ञ या कपड़ा परीक्षण प्रयोगशालाएँ अधिक सटीक और विस्तृत पहचान प्रदान कर सकते हैं।

दुनिया के सबसे महंगे कपड़े कौन से हैं?

लड़कियों के कपड़ों के नाम क्या क्या है? 

 लड़कियों के कपड़ो के नाम हिंदी और अंग्रजी में दिया है :-

Hindi English
ड्रेस Dress
स्कर्ट Skirt
टॉप Top
ब्लाउज़ Blouse
टी-शर्ट T-shirt
लेगिंग्स Leggings
जींस Jeans
शॉर्ट्स Shorts
जंपसूट Jumpsuit
रॉम्पर Romper
स्वेटर Sweater
कार्डिगन Cardigan
जैकेट Jacket
कोट Coat
हूडी Hoodie
स्वेटशर्ट Sweatshirt
पजामा Pajamas
नाईटगाउन Nightgown
स्विमवियर Swimwear
साड़ी Saree

कपड़े के 4 प्रकार क्या हैं?| kapdon ke naam

Type of Clothing Description
Casual Wear Worn as everyday attire, made from standard fabrics.
Formal Wear Worn for formal occasions such as weddings and events.
Undergarments Worn for support and/or adornment, often concealed under clothing.
Sportswear Worn for athletic activities such as running or sports.

100 सूती कपड़े को क्या कहते हैं?

बिना किसी अन्य मिश्रित रेशे के पूरी तरह से रेशम से बना कपड़ा, आमतौर पर “100% रेशमी कपड़ा” या “शुद्ध रेशमी कपड़ा” के रूप में जाना जाता है। यह दर्शाता है कि कपड़ा पूरी तरह से रेशम के रेशों से बना है,

सबसे लोकप्रिय कपड़ों का ब्रांड 2023 क्या है?

 अपनी गुणवत्ता और विशेषताओं के लिए जाने जाने वाले कुछ अत्यधिक सम्मानित कपड़ों में शामिल हैं:
  • वर्साचे
  • चैनल
  • प्रादा
  • यवेस सेंट लॉरेंट
  • जियोर्जियो अरमानी
  • राल्फ लॉरेन
प्राचीन सभ्यताओं से लेकर आधुनिक फैशन ट्रेंड तक, कपड़ों ने हमेशा मानव समाज में एक महत्वपूर्ण स्थान रखा है।आपको ब्लॉग पोस्ट कैसे लगा आपको कुछ सिखने को मिला क्या हमें जरूर कमेंट करे ।

ऊनी कपड़े का नाम| names of woolen clothes

ऊनी कपड़े का नाम| names of woolen clothes
ऊनी कपड़े का नाम| names of woolen clothes
यह आपको गर्म रखने की क्षमता रखता है, यह विशेष रूप से ऊनी फाइबर नहीं है जो यह काम करता है, यह वास्तव में फाइबर के बीच हवा का स्थान है जो हवा को रोकने में मदद करता है-
संख्या वस्त्र का नाम woolen clothes written
1 स्वेटर Sweater
2 मफलर Scarf
3 दस्ताना Gloves
4 टोपी Hat
5 कोट Coat
6 रजाई Blanket
7 शॉल Shawl
8 मोज़ा Socks
 9 दस्ताने

Mittens

10 पोंचो Poncho
11 कार्डिगन Cardigan
12 ओवरकोट Overcoat
13 लेगिंग्स (ऊनी) Leggings (made of wool)
14 पी कोट Pea coat
15 थर्मल अंडरवियर (ऊनी) Thermal underwear (made of wool)

ऊनी कपड़े की पहचान कैसे करें?

किसी भी उन्हीं कपड़े की पहचान करने के लिए हमें असली उनकी पहचान होनी बहुत जरूरी है। असली उन हमें भेड़ों से प्राप्त होती है, जबकि सिंथेटिक उनको प्लास्टिक और सिंथेटिक धागों की मदद से बनाया जाता है। असली ऋण जब हमें प्राप्त होते हैं तो वो सफेद और कुछ पीले रंग पर होते हैं और जब हम असली उनको देखते है तो उसके रेश्यो सिंथेटिक उनके मुकाबले कुछ मोटे होते हैं।
और ये थोड़े कम चमकदार भी होती है। जब हम असली उनको खींचकर तोड़ने की कोशिश करते हैं तो यह अपने रेशियो को लंबाई में खिंचाव देते ही टूट जाते हैं और असली उन सिंथेटिक उनके मुकाबले ज्यादा गर्म होती है। उन सर्दियों में प्रयोग आने वाला कपड़ा है जिसका प्रयोग सर्दी के कपड़े बनाने के लिए किया जाता है,

उन भेड़ों से प्राप्त होता है और उसी के प्रयोग से शरीर तक ठंड नहीं पहुँच पाती हैं। उनके हमें गर्म रखने के कई कारण हैं। उनके फाइबर के बीच कहीं हवा के पॉकेट होते हैं, जो अपने अंदर हवा भर लेते हैं।इससे पहनने के बाद यह एर पॉकेट उष्मा रोधक का काम करते हैं अर्थात हमारे कपड़ों से गर्म हवा बाहर जाने से रोक देते है एवं ठंडी हवा को अंदर आने से भी रोक देते हैं।

यही कारण है कि ठंड के मौसम में भी हम उन्हीं कपड़े पहनकर गर्म महसूस करते हैं। महीन ऊन, मेरिनो भेड़ों से ही यह उन प्राप्त होती है। मेरिनो भेड़ों की प्रमुख जातियां अमेरिकी ऑस्ट्रेलियाई, फ़्रान्सीसी सेक्स, दक्षिण अफ्रीकी और दक्षिण अमेरिकी हैं। मैरिनो ने अपनी कोमलता बारी की मजबूतीलचीलेपन, उत्कृष्ट कटाई और नंबर बना सकने के गुणों के कारण विशेष प्रसिद्ध है।

इसका उपयोग स्त्रियों की पोशाक के ट्वीट, सर्च ऑफ लाल कोट तथा ओवर कोट के कपड़े और कंबल बनाने में अधिक होता है।

सबसे नरम ऊन कौन सी है?

यह संभवतः मनुष्यों के लिए ज्ञात सबसे पुराना फाइवर है, जो न केवल जहाज से आता है, बल्कि विभिन्न जानवरों जैसे बकरी, ऊंट अल्पाका आदि से भी आता है, इसके ऊन के प्रकार के अपने अद्वितीय गुण हैं और विशेषताएं जो इसे अनुप्रयोगों की एक विस्तृत श्रृंखला के लिए उपयुक्त बनाती हैं,


समुद्री जहाज़ में यह जहाज द्वारा उत्पादित सभी ऊन की तुलना में नरम और चिकना है, यह अविश्वसनीय फाइबर भी अस्थायी रूप से विनियमित होता है जो इसे आपके दौर के उपयोग के लिए अद्भुत बनाता है, यह गर्म होने पर आपको ठंडा रखता है और ठंडा होने पर गर्म रखता है, जीवाणुरोधी होने के कारण यह गंध से लड़ने के लिए भी काम करता है, इसलिए आपका मैरिनो ऐसा करता है।
गंध न लें, अधिकांश मैरून तेल ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में उत्पादित होता है, 

ऊन से कौन कौन सी चीजें बनती है?

संख्या वस्त्र का नाम
1 स्वेटर
2 मफलर
3 दस्ताना
4 टोपी
5 कोट
6 रजाई
7 शॉल
8 मोज़ा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *